Sare Tirath Dham Aapke Charno Mein

Krishna Mantra Jaap (श्री कृष्ण मंत्र जाप)

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय हरे राम – हरे कृष्ण श्री कृष्ण शरणम ममः
हरे कृष्ण हरे कृष्ण – कृष्ण कृष्ण हरे हरे – हरे राम हरे राम – राम राम हरे हरे
Krishna Bhajan
_

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में


सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥

सारे तीर्थ धाम, आपके चरणो में।
हे गुरुदेव, प्रणाम आपके चरणो में॥

हृदय में माँ गौरी लक्ष्मी,
कंठ शारदा माता है।
जो भी मुख से वचन कहें,
वो वचन सिद्ध हो जाता है॥

है गुरु ब्रह्मा, है गुरु विष्णु,
है शंकर भगवान, आपके चरणो में।
हे गुरुदेव, प्रणाम आपके चरणो में॥

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥

जनम के दाता मात पिता है,
आप करम के दाता है।
आप मिलाते है ईश्वर से,
आप ही भाग्य विधाता है॥

दुखिया मन को, रोगी तन को,
मिलता है आराम आपके चरणो में।
हे गुरुदेव, प्रणाम आपके चरणो में॥

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥

निर्बल को बलवान बना दो,
मूर्ख को गुणवान प्रभु।
भक्तों को भी
ज्ञान का दो वरदान गुरु॥

हे महादानी, हे महाज्ञानी,
रहूँ मैं सुबह श्याम आपके चरणो में।
हे गुरुदेव, प्रणाम आपके चरणो में॥

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥

मेरे बाबा….,मेरे बाबा….,
मेरे बाबा….,

दोहा –
कर्ता करे न कर सके,
पर गुरु किये सब होय।
सात द्वीप नौ खंड में,
गुरु से बड़ा ना कोय॥

मैं तो सात समुद्र की मसि करूं,
लेखनी सब बन राय।
सब धरती कागज़ करूँ,
पर गुरु गुण लिखा ना जाए॥

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥

Sare Tirath Dham Aapke Charno Mein
Sare Tirath Dham Aapke Charno Mein

सारे तीर्थ धाम, आपके चरणो में।
हे गुरुदेव, प्रणाम आपके चरणो में॥

_

Satguru Bhajans

_
_

गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥


गुरु की शरण में रहना बंदे और शरण किस काम की।
लगन लगा ले गुरु चरणों में फिर चिंता किस बात की॥

सतगुरु मेरा सूरमा करे शब्द की चोट।
औषध दे हरी नाम का तन मना किया निरोग॥


हरि नाम सुमिर ले ध्यान लगा ले, ले उसका नाम।
तेरे जनम जनम के सारे बिगड़े बन जाएंगे काम॥

उसका नाम बहुत ही प्यारा, देता है जीने का सहारा।
डोरी सौंप के तो देख एक बार, नैया बचेगी तूफान में॥


हर पल सुमिर लगन लगा ले, अलख निरंजन झूम के गा ले।
चलता चल तू, प्रभु की इस राह पर, बढ़ता चल तू इस राह रे।
यही जीवन का है परम सौभाग्य रे॥

सारे तीरथ धाम आपके चरणों में,
हे गुरुदेव प्रणाम आपके चरणो में॥

_

Hey Gurudev Pranam Aapke Charno Mein

Sadhvi Purnima Ji (Poonam Didi)

_

Sare Tirath Dham Aapke Charno Mein


Sare tirath dham apke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Saare tirth dham aapke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Hriday mein maa gauri lakshmi,
kanth sharda maata hai.
Jo bhi mukh se vachan kahen,
vo vachan siddh ho jaata hai.

Hai guru brahma, hai guru vishnu,
hai shankar bhagwan, aapake charano mein.
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Saare tirath dham aapke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Janam ke daata maat pita hai,
aap karam ke daata hai.
Aap milaate hai ishwar se,
aap hi bhagya vidhaata hai.

Dukhiya man ko, rogi tan ko,
milata hai aaraam aapake charano mein.
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Saare tirth dham apke charnon mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Nirbal ko balavaan bana do,
moorkh ko gunavaan prabhu.
Bhakton ko bhi,
gyaan ka do varadaan guru.

He mahaa daani, he mahaa gyaani,
rahoon main subah shyaam aapake charano mein.
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Saare tirath dham aap ke charno mein,
hey gurudev pranam aap ke charno mein.

Mere baba…., Mere baba….,
Mere baba….

Doha –
Karta kare na kar sake,
par guru kiye sab hoy.
Saat dweep nau khand mein,
guru se bada na koy.

Main to saat samudra ki masi karoon,
lekhani sab ban raay.
Sab dharati kaagaz karoon,
par guru gun likha na jae.

Saare tirath dham aapke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Hey Gurudev Pranam Aapke Charno Mein
Hey Gurudev Pranam Aapke Charno Mein

Saare tirth dham aapke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

_

Krishna Bhajans

_

Gurudev Pranam Aapke Charno Mein

Sare tirath dham apke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.

Guru ki sharan mein rahana bande aur sharan kis kaam ki.
Lagan laga le guru charano mein phir chinta kis baat ki.

Sataguru mera soorama kare shabd ki chot.
Aushadh de hari naam ka tan mana kiya nirog.

Hari naam sumir le dhyaan laga le, le usaka naam.
Tere janam janam ke saare bigade ban jaenge kaam.

Usaka naam bahut hi pyaara, deta hai jine ka sahaara.
Dori saump ke to dekh ek baar, naiya bachegi toophaan mein.

Har pal sumir lagan laga le, alakh niranjan jhoom ke ga le.
Chalata chal too, prabhu ki is raah par, badhata chal too is raah re.
Yahi jivan ka hai param saubhaagy re.

Sare tirath dham apke charno mein,
hey gurudev pranam aapke charno mein.