Mujhe Raas Aa Gaya Hai, Tere Dar Pe Sar Jhukana

Krishna Mantra Jaap (श्री कृष्ण मंत्र जाप)

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय हरे राम – हरे कृष्ण श्री कृष्ण शरणम ममः
हरे कृष्ण हरे कृष्ण – कृष्ण कृष्ण हरे हरे – हरे राम हरे राम – राम राम हरे हरे
Krishna Bhajan
_

मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना – 1


मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना,
तुझे मिल गया पुजारी,
मुझे मिल गया ठिकाना।

मुझे रास आ गया हैं,
तेरे दर पे सर झुकाना॥

मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना

मुझे इसका गम नहीं है,
के ये दुनिया रुठ जाएं।
मेरी जिंदगी के मालिक,
कहीं तुम ना रूठ जाना॥

मुझे रास आ गया हैं,
तेरे दर पे सर झुकाना॥

मेरी जिंदगी के मालिक, कहीं तुम ना रूठ जाना

तेरी बंदगी से पहले,
मुझे कौन जानता था।
तेरी याद ने बना दी,
मेरी जिंदगी फसाना॥

मुझे रास आ गया हैं,
तेरे दर पे सर झुकाना॥

तेरी याद ने बना दी, मेरी जिंदगी फसाना

दुनिया की ठोकरों से,
आया मैं तेरे द्वारे,
मेरे मुरली वाले मोहन,
अब और ना सताना॥

मुझे रास आ गया हैं,
तेरे दर पे सर झुकाना॥

मेरे मुरली वाले मोहन, अब और ना सताना

तेरी सांवरी सुरतिया,
मेरे मन में बस गई है।
अब आ भी जाओ मोहन,
करके कोई बहाना॥

मुझे रास आ गया हैं,
तेरे दर पे सर झुकाना॥

अब आ भी जाओ मोहन, करके कोई बहाना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पर सर झुकाना।
तुझे मिल गया पुजारी,
मुझे मिल गया ठिकाना॥

_

Mujhe Raas Aa Gaya Hai Download


Mujhe raas aa gaya hai, tere dar pe sar jhukana download as

PDF Mujhe Raas Aa Gaya Hai Download


Image Mujhe Raas Aa Gaya Hai Download


For Print – PDF | Image

_

मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना – 2

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गई पुजारिन,
मुझे मिल गया ठिकाना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना


मुझे कौन जानता था,
तेरी बंदगी से पहले
तेरी याद ने बना दी,
मेरी ज़िन्दगी फ़साना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना


मुझे इसका गम नहीं है
की बदल गया ज़माना
मेरी ज़िन्दगी के मालिक
कहीं तुम बदल न जाना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना


यह सर वो सर नहीं है,
जिसे रख दूँ फिर उठा लूं
जब चढ़ गया चरण में,
आता नहीं उठाना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना


तेरी सांवरी सी सुरत,
मेरे मन में बस गयी है
ऐ सांवरे सलोने,
अब और ना सताना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना


मेरी आरजु यही है,
दम निकले तेरे दर पे
अभी सांस चल रही है,
कहीं तुम चले ना जाना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना


दुनियां की खा के ठोकर
मैं आया तेरे द्वारे
मेरे मुरली वाले मोहन,
अब और ना सताना

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना

Mujhe Raas Aa Gaya Hai
Mujhe Raas Aa Gaya Hai

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना

_

New Bhajans

या देवी सर्वभूतेषु मंत्र – दुर्गा मंत्र – अर्थ सहित
शिव शंकर डमरू वाले - है धन्य तेरी माया जग में
_

Krishna Bhajans

_
_

Mujhe Raas Aa Gaya Hai

Chitra Vichitra Ji Maharaj

Shri Mridul Krishna Shastri

_

Mujhe Raas Aa Gaya Hai, Tere Dar Pe Sar Jhukana – 1


Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana,
tujhe mil gaya pujari,
mujhe mil gaya thikaana.

Mujhe raas aa gaya hain,
tere dar pe sar jhukana.

Mujhe isaka gam nahin hai,
ke ye duniya ruth jaen .
Meree jindagee ke maalik,
kaheen tum na rooth jaana.

Mujhe raas aa gaya hain,
tere dar pe sar jhukana.

Teree bandagee se pahale,
mujhe kaun jaanata tha.
Teree yaad ne bana dee,
meree jindagee phasaana.

Mujhe raas aa gaya hain,
tere dar pe sar jhukana.

Duniya kee thokaron se,
aaya main tere dvaare,
mere muralee vaale mohan,
ab aur na sataana.

Mujhe raas aa gaya hain,
tere dar pe sar jhukana.


Teree saanvaree suratiya,
mere man mein bas gaee hai.
Ab aa bhee jao mohan,
karake koee bahaana.

Mujhe raas aa gaya hain,
tere dar pe sar jhukana.


Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana.
Tujhe mil gaya pujari,
mujhe mil gaya thikaana.

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana.

_

Mujhe Raas Aa Gaya Hai, Tere Dar Pe Sar Jhukana – 2

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana
Tujhe mil gayi pujaarin,
mujhe mil gaya thikaana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana


Mujhe kaun jaanata tha,
teri bandagi se pahale
Teri yaad ne bana di,
meri zindagi fasaana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana


Mujhe iska gam nahin hai,
ki badal gaya zamaana
Meri zindagi ke maalik
kahin tum badal na jaana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana


Yah sar wo sar nahin hai,
jise rakh doon phir utha loon
Jab chadh gaya charan mein,
aata nahin uthaana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana


Teri saanvari si surat,
mere man mein bas gayi hai
Aye sanware salone,
ab aur na sataana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana


Meri aaraju yahi hai,
dam nikale tere dar pe
Abhi saans chal rahi hai,
kahin tum chale na jaana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana


Duniyaan ki kha ke thokar
main aaya tere dvaare
Mere Murali wale Mohan,
ab aur na sataana

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana

Mujhe Raas Aa Gaya Hai
Mujhe Raas Aa Gaya Hai

Mujhe raas aa gaya hai,
tere dar pe sar jhukana

_

Krishna Bhajans

_