Vividh Bhajan

दया कर, दान भक्ति का

दया कर, दान भक्ति का, हमें परमात्मा देना।
दया करना, हमारी आत्मा को शुद्धता देना॥
हमारे ध्यान में आओ, प्रभु आँखों में बस जाओ।
अंधेरे दिल में आकर के परम ज्योति जगा देना॥

read more ....

है कण कण में झांकी भगवान की

है कण कण में झांकी भगवान् की।
किसी सूझ वाली आँख ने पहचान की॥
निगाह मीरा की निराली, पीली जहर की प्याली,
ऐसा गिरधर बसाया हर श्वास में।

read more ....