Bhakti Geet

माँ लक्ष्मी जी की आरती - जय लक्ष्मी माता

ओम जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता

तुम को निश दिन सेवत, हर-विष्णु-धाता॥
दुर्गा रूप निरंजनि, सुख-सम्पति दाता
जिस घर तुम रहती, सब सद्‍गुण आता

ॐ जय लक्ष्मी माता

read more ....

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला - अर्थसहित

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी॥
जब कृपा के सागर कौशल्या के हितकारी दीनदयालु प्रभु प्रकट हुए, तब उनका अद्भुत स्वरुप देखकर माता कौशल्या परम प्रसन्न हुई।

read more ....

श्री राम आरती - श्रीरामचन्द्र कृपालु भज मन - अर्थ सहित

श्रीरामचन्द्र कृपालु भज मन
हरण भवभय दारुणम्।
नवकंज-लोचन कंज-मुख
कर-कंज पद-कंजारुणम्॥
श्रीरामचन्द्र कृपालु भज मन – हे मन, कृपालु (कृपा करनेवाले, दया करनेवाले) भगवान श्रीरामचंद्रजी का भजन कर

read more ....