B

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला - अर्थसहित

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी॥
जब कृपा के सागर कौशल्या के हितकारी दीनदयालु प्रभु प्रकट हुए, तब उनका अद्भुत स्वरुप देखकर माता कौशल्या परम प्रसन्न हुई।

read more ....

भवानी अष्टकम - अर्थ सहित

न तातो न माता न बन्धुर्न दाता
न पुत्रो न पुत्री न भृत्यो न भर्ता।
न जाया न विद्या न वृत्तिर्ममैव
गतिस्त्वं गतिस्त्वं त्वमेका भवानि

read more ....

बस हो गया भजन

मन की तरंग मार लो, बस हो गया भजन
आदत बुरी सुधार लो, बस हो गया भजन

आये हो तुम कहा से, जाओगे तुम कहाँ
इतना तो दिल विचार लो, बस हो गया भजन

कोई तुम्हे बुरा कहे, तुम सुनकर करो क्षमा
वाणी का स्वर सुधार लो, बस हो गया भजन
मन की तरंग मार लो, बस हो गया भजन

read more ....