Mahishasura Mardini Stotram – Aigiri Nandini – Hindi

अयि गिरि-नन्दिनि नंदित-मेदिनि
विश्व-विनोदिनि नन्दिनुते
गिरिवर विंध्य शिरोधि-निवासिनि
विष्णु-विलासिनि जिष्णुनुते।

महिषासुर मर्दिनी स्तोत्र

Anandmurti Gurumaa


Rajalakshmee Sanjay (Rajshri Music)

_

Durga Stotra – Mahishasura Mardini Stotram – Lyrics in Hindi


अयि गिरि-नन्दिनि नंदित-मेदिनि
विश्व-विनोदिनि नंदनुते
गिरिवर विंध्य शिरोधि-निवासिनि
विष्णु-विलासिनि जिष्णुनुते।

भगवति हे शितिकण्ठ-कुटुंबिनि
भूरि कुटुंबिनि भूरि कृते
जय जय हे महिषासुर-मर्दिनि
रम्य कपर्दिनि शैलसुते॥


सुरवर-वर्षिणि दुर्धर-धर्षिणि
दुर्मुख-मर्षिणि हर्षरते
त्रिभुवन-पोषिणि शंकर-तोषिणि
किल्बिष-मोषिणि घोषरते।

दनुज निरोषिणि दितिसुत रोषिणि
दुर्मद शोषिणि सिन्धुसुते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्य कपर्दिनि शैलसुते॥


अयि जगदंब मदंब कदंब
वनप्रिय वासिनि हासरते
शिखरि शिरोमणि तुङ्ग हिमालय
श्रृंग निजालय मध्यगते।

मधु मधुरे मधु कैटभ गंजिनि
कैटभ भंजिनि रासरते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्य कपर्दिनि शैलसुते॥


अयि शतखण्ड विखण्डित रुण्ड
वितुण्डित शुण्ड गजाधिपते
रिपु गज गण्ड विदारण चण्ड
पराक्रम शुण्ड मृगाधिपते।

निज भुज दण्ड निपातित
खण्ड विपातित मुण्ड भटाधिपते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


अयि रण दुर्मद शत्रु वधोदित
दुर्धर निर्जर शक्तिभृते
चतुर विचार धुरीण महाशिव
दूतकृत प्रमथाधिपते।

दुरित दुरीह दुराशय दुर्मति
दानव दूत कृतांतमते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


अयि शरणागत वैरि वधूवर
वीर वराभय दायकरे
त्रिभुवन मस्तक शूल विरोधि
शिरोधि कृतामल शूलकरे।

दुमिदुमि तामर दुंदुभिनाद
महो मुखरीकृत तिग्मकरे
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


अयि निज हुँकृति मात्र निराकृत
धूम्र विलोचन धूम्र शते
समर विशोषित शोणित बीज
समुद्भव शोणित बीज लते।

शिव शिव शुंभ निशुंभ
महाहव तर्पित भूत पिशाचरते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


धनुरनु संग रणक्षणसंग
परिस्फुर दंग नटत्कटके
कनक पिशंग पृषत्क निषंग
रसद्भट शृंग हतावटुके।

कृत चतुरंग बलक्षिति रंग
घटब्दहुरंग रटब्दटुके
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


जय जय जप्य जयेजय शब्द
परस्तुति तत्पर विश्वनुते
झण झण झिञ्जिमि झिंगकृत नूपुर
सिंजित मोहित भूतपते।

नटित नटार्ध नटी नट नायक
नाटित नाट्य सुगानरते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


अयि सुमनः सुमनः सुमनः
सुमनः सुमनोहर कांतियुते
श्रितरजनी रजनी-रजनी
रजनी-रजनी कर वक्त्रवृते।

सुनयन विभ्रमर भ्रमर
भ्रमर-भ्रमर भ्रमराधिपते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


सहित महाहव मल्लम तल्लिक
मल्लित रल्लक मल्लरते
विरचित वल्लिक पल्लिक मल्लिक
भिल्लिक भिल्लिक वर्ग वृते।

सितकृत पुल्लिसमुल्ल सितारुण
तल्लज पल्लव सल्ललिते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


अविरल गण्ड गलन्मद
मेदुर मत्त मतङ्गज राजपते
त्रिभुवन भूषण भूत कलानिधि
रूप पयोनिधि राजसुते।

अयि सुद तीजन लालसमानस
मोहन मन्मथ राजसुते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


कमल दलामल कोमल कांति
कलाकलितामल भाललते
सकल विलास कलानिलयक्रम
केलि चलत्कल हंस कुले।

अलिकुल सङ्कुल कुवलय मण्डल
मौलिमिलद्भकुलालि कुले
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


कर मुरली रव वीजित कूजित
लज्जित कोकिल मंजुमते
मिलित पुलिन्द मनोहर गुंजित
रंजितशैल निकुंज गते।

निजगुण भूत महाशबरीगण
सदगुण संभृत केलितले
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


कटितट पीत दुकूल विचित्र
मयूखतिरस्कृत चंद्र रुचे
प्रणत सुरासुर मौलिमणिस्फुर
दंशुल सन्नख चंद्र रुचे।

जित कनकाचल मौलिपदोर्जित
निर्भर कुंजर कुंभकुचे
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


विजित सहस्रकरैक सहस्रकरैक
सहस्रकरैकनुते
कृत सुरतारक संगरतारक
संगरतारक सूनुसुते।

सुरथ समाधि समान समाधि
समाधि समाधि सुजातरते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


पदकमलं करुणानिलये वरिवस्यति
योऽनुदिनं स शिवे
अयि कमले कमलानिलये
कमलानिलयः स कथं न भवेत्।

तव पदमेव परंपदमित्यनुशीलयतो
मम किं न शिवे
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


कनकल सत्कल सिन्धु जलैरनु
सिंचिनुते गुण रंगभुवम
भजति स किं न शचीकुच कुंभ
तटी परिरंभ सुखानुभवम्।

तव चरणं शरणं करवाणि
नतामरवाणि निवासि शिवं
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


तव विमलेन्दुकुलं वदनेन्दुमलं
सकलं ननु कूलयते
किमु पुरुहूत पुरीन्दुमुखी
सुमुखीभिरसौ विमुखीक्रियते।

मम तु मतं शिवनामधने
भवती कृपया किमुत क्रियते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥


अयि मयि दीनदयालुतया
कृपयैव त्वया भवितव्यमुमे
अयि जगतो जननी कृपयासि
यथासि तथानुमितासिरते।

यदुचितमत्र भवत्युररि
कुरुतादुरुतापमपा कुरुते
जय जय हे महिषासुरमर्दिनि
रम्यकपर्दिनि शैलसुते॥

_

For more bhajans from category, Click -

-
-

_

Mata ke Bhajan

  • Tere Mandiro Mein Amrit Barse Maa – Hindi
    तेरे मंदिरों मे अमृत बरसे माँ
    तेरे मंदिरों में अमृत बरसे माँ,
    तेरे भक्तों के मन की प्यास बुझी,
    अब रूह किसी की ना तरसे माँ
    मिट जाता अन्धकार दिलों का,
    आखे है खुल जातीं
  • Navdurga – Maa Chandraghanta
    नवदुर्गा - माँ दुर्गा का तीसरा रूप - माँ चन्द्रघण्टा
    माँ दुर्गाजी का तीसरा स्वरुप - माँ चन्द्रघण्टा
    नवरात्रि का तीसरा दिन माँ चन्द्रघण्टा की उपासना का दिन होता है।
    माँ चंद्रघंटा का स्वरूप परम शान्तिदायक और कल्याणकारी है।
    इनकी कृपासे साधक के समस्त पाप और बाधाएँ नष्ट हो जाती हैं।
  • Shakti De Maa – Pag Pag Thokar – Hindi
    शक्ति दे माँ, शक्ति दे माँ
    तेरे द्वारे जो भी आया,
    उसने जो माँगा वो पाया
    मैं भी तेरा सवाली,
    शक्तिशाली शेरों वाली, माँ जगदम्बे
  • Jay Ambe Jagdambe Mata, Jay Ambe
    जय अम्बे जगदम्बे माता जय अम्बे
    Jay Ambe Jagdambe Mata, Jay Ambe maa...
    Dhaula waliye, Jyota waliye,
    ni main aaee tere dwaare maa...
  • Pyara Saja Hai Tera Dwar Bhawani – Hindi
    प्यारा सजा है तेरा द्वार, भवानी
    प्यारा सजा है तेरा द्वार, भवानी
    तेरे भक्तों की लगी है कतार, भवानी
    पल में भरती झोली खाली
    तेरे खुले दया के भण्डार, भवानी
  • Om Jai Laxmi Mata – Laxmi Aarti – Hindi
    माँ लक्ष्मी जी की आरती
    ओम जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता
    तुम को निश दिन सेवत, हर-विष्णु-धाता॥
    दुर्गा रूप निरंजनि, सुख-सम्पति दाता
    जिस घर तुम रहती, सब सद्‍गुण आता
    ॐ जय लक्ष्मी माता
  • Sachi Hai Tu Saccha Tera Darbar – Hindi
    सच्ची है तू सच्चा तेरा दरबार
    सच्ची है तू, सच्चा तेरा दरबार, माता रानिये
    करदे दया की एक नज़र एक बार, माता रानिये
    क्या गम है, कैसी उलझन,
    जब सर पे तेरा हाथ है
    हर दुःख में हर संकट में,
    माता तू हमारे साथ है
  • Beta Jo Bulaye, Maa Ko Ana Chahiye
    बेटा जो बुलाए, माँ को आना चाहिए
    Maiya ji ke charno mein thikana chahiye Beta jo bulaye, Maa ko ana chahiye Sun lo ai Maa ke pyaro, tum prem se pukaro aayegi Sherawali, Jagdambe Meharawali
  • Aarti Jag Janani Main Teri Gaun
    आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
    Aarti Jag Janani main teri gaun
    Tum bin kaun sune varadaati,
    Kis ko jaakar vinay sunaoo,
    Aarti Jag Janani main teri gaun
  • Navdurga – Maa Brahmacharini
    नवदुर्गा - माँ दुर्गा का दूसरा स्वरूप - माँ ब्रह्मचारिणी
    माँ दुर्गा दूसरा स्वरूप ब्रह्मचारिणी का है।
    नवरात्र पर्व के दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना की जाती है।
    ब्रह्मचारिणी अर्थात तप की चारिणी, तप का आचरण करने वाली।
    देवी की उपासना से मनुष्य में तप, त्याग, सदाचार व संयम की वृद्धि होती है।
_

Bhajan List

Maa Sherawali Bhajan – Hindi
Devi Aarti – Hindi
Bhajan, Aarti, Chalisa, Dohe – List

_
_

Durga Bhajan Lyrics

  • Navdurga – Maa Shailputri
    नवदुर्गा - माँ दुर्गा का पहला स्वरूप - माँ शैलपुत्री
    देवी शैलपुत्री नव दुर्गाओं में प्रथम दुर्गा हैं।
    शैलपुत्री दुर्गा का महत्त्व और शक्तियाँ अनन्त हैं।
    नवरात्र पूजन में प्रथम दिवस इन्हीं की पूजा और उपासना की जाती है।
  • Karti Hu Tumhara Vrat Main – Hindi
    करती हूँ तुम्हारा व्रत मैं - बेडा पार करो माँ
    करती हूँ तुम्हारा व्रत मैं,
    बेडा पार करो माँ,
    कल्याण मेरा हो सकता है,
    माँ आप जो चाहें
    हे माँ संतोषी, माँ संतोषी
  • Jai Laxmi Ramana – Hindi
    Jai Laxmi Ramana - Hindi
    जय लक्ष्मीरमणा,
    श्री लक्ष्मी रमणा।
    सत्यनारायण स्वामी,
    सत्यनारायण स्वामी,
    जन पातक हरणा॥
    ॐ जय लक्ष्मी रमणा॥
  • Bhor Bhai Din Chad Gaya – Maa Vaishno Devi Aarti
    भोर भई दिन चढ़ गया - माँ वैष्णो देवी आरती
    Bhor bhayi din chad gaya, meri Ambe
    Ho rahee jai jai kaar, mandir vich
    Aarti Jai Maa
    Hey Darabaara wali, Aarti Jai Maa
    Hey Pahada wali Aarti Jai Maa
  • De Maa, Nij Charno Ka Pyar – Durga Bhajan – Prayer
    दे माँ, निज चरणों का प्यार (Prayer)
    Jai Jai Maa, Jai Maa
    De maa, nij charno ka pyar
    De maa, nij charno ka pya
    Jai Jai Maa, Jai Maa
_
_

Bhajans and Aarti

  • Bhajan – Aarti – Dohe
    भजन - आरती - दोहे
    Bhajan List - Bhajan, Aarti, Chalisa
    Dohe with Meaning Chalisa, and Stotra
    Krishna Bhajan, Ram Bhajan
    Shiv Bhajan, Maa Durga Bhajan
    Ganesh Bhajan, Hanuman Bhajan
    Kabir Dohe and Kabir Bhajan
  • Ganesh Mantra
    श्री गणेश मंत्र
    Shri Ganesh Mantra
    Ganesh Gayatri Mantra
    Ganesh Shubh Labh Mantra
    Ganapati Bappa Moraya
  • Anmol Tera Jeevan Yunhi Ganwa Raha Hai – Hindi
    अनमोल तेरा जीवन यूँही गँवा रहा है
    अनमोल तेरा जीवन, यूँही गँवा रहा है
    किस और तेरी मंजिल, किस और जा रहा है
    सपनो की नीद में ही, यह रात ढल न जाये
    गिनती की है ये साँसे, यूँही लुटा रहा है
  • Bhakti – Kabir Dohe – Hindi
    भक्ति - कबीर के दोहे
    - कामी क्रोधी लालची, इनसे भक्ति ना होय।
    - भक्ति बिन नहिं निस्तरे, लाख करे जो कोय।
    - भक्ति भक्ति सब कोई कहै, भक्ति न जाने भेद।
    - भक्ति जु सीढ़ी मुक्ति की, चढ़े भक्त हरषाय।
  • समता – भगवद्‍ गीता|Bhagavad Gita Quotes

    समता – भगवद्‍गीता अध्याय – २ मात्रास्पर्शास्तु कौन्तेय शीतोष्णसुखदुःखदाः। आगमापायिनोऽनित्या: तांस्तितिक्षस्व भारत॥१४॥ सर्दी-गर्मी और सुख-दुःख को देने वाले इन्द्रिय और … Continue reading समता – भगवद्‍ गीता|Bhagavad Gita Quotes
  • Bhajans from Hindi Films – List
    Bhajans from Hindi Films - Hindi
    Tune Mujhe Bulaya Sherawaliye
    Banwari Re Jeene Ka Sahara
    Jai Jai Narayan Narayan Hari Hari
    Aye Malik tere Bande Hum
  • Sanson Ki Sargam Pe – Hindi
    सांसो की सरगम पे
    सांसो की सरगम पे धड़कन ये दोहराए
    ओम नमः शिवाय, ओम नमः शिवाय
    भगवन सहारा दे मुश्किल घडी है
    रस्ता दिखा, राही तेरी शरण आए
  • Chalo Shiv Shankar Ke Mandir – Hindi
    चलो शिव शंकर के मंदिर में भक्तो
    चलो शिव शंकर के मंदिर में भक्तो शिव जी के चरणों में सर को झुकाए। करें अपने तन मन को गंगा सा पावन जपें नाम शिव का भजन इनके गाएं॥
  • Teri Kripa Hi Mera Sab Kuch – Hindi
    तेरी कृपा ही मेरा सब कुछ - Satguru Bhajan
    तेरी कृपा ही मेरा सब कुछ,
    ओ मेरे सतगुरू प्‍यारे।
    बन गया नाथ तू मेरा,
    तूने पल पल साथ निभाया।
_
_

New Bhakti Geet Lyrics

  • Tu Gokul Ka Rakhwala Hai – Hindi
    तु गोकुल का रखवाला है
    तु गोकुल का रखवाला है,
    कोई क्या जाने नन्दलाला है॥
    कोई क्या जाने नन्दलाला है॥
  • Ek Aas Tumhari Hai, Vishwas Tumhara Hai
    एक आस तुम्हारी है, विश्वास तुम्हारा है
    Ek aas tumhari hai, vishwas tumhara hai
    Ab tere siva baba, kaho kaun hamaara hai
    Phoolon mein mahak tumase,
    taaron mein chamak tumase
    Jis or nazar daaloo, tera hi najaara hai
    Ghanshyam daras dedo, koi na hamaara hai
    Ab tere siva baaba, kaho kaun hamaara hai
  • Tora Man Darpan Kahlaye – Hindi
    तोरा मन दर्पण कहलाये
    तोरा मन दर्पण कहलाये
    भले, बुरे सारे कर्मों को
    देखे और दिखाए
    तोरा मन दर्पण कहलाये
  • Hey Gajavadana, Gauri Nandana – Prayer – Hindi
    हे गजवदना, गौरी नंदना - प्रार्थना
    हे गजवदना, गौरी नंदना
    रक्षा करो सबकी
    मंगलमय हो जीवन सारा
    धारा बहे सुख की
  • Sunderkand – 05
    सुंदरकाण्ड - 5
    तब देखी मुद्रिका मनोहर।
    राम नाम अंकित अति सुंदर॥
    चकित चितव मुदरी पहिचानी।
    हरष बिषाद हृदयँ अकुलानी॥
    फिर सीताजीने उस मुद्रिकाको देखा तो वह सुन्दर मुद्रिका रामचन्द्रजीके मनोहर नामसे अंकित हो रही थी अर्थात उसपर श्री राम का नाम खुदा हुआ था॥

Aigiri Nandini – Mahishasura Mardini Stotram

अयि गिरि-नन्दिनि नंदितमेदिनि
विश्वविनोदिनि नंदनुते
गिरिवर विंध्य शिरोधिनिवासिनि
विष्णुविलासिनि जिष्णुनुते।

_