Mujhe Tune Maalik Bahut Kuch Diya Hai – Hindi

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

Prembhushan ji Maharaj

_

Mujhe Tune Maalik Bahut Kuch Diya Hai


मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है


ना मिलती अगर दी हुई दात तेरी
तो क्या थी ज़माने में औकात मेरी

ये बंदा तो तेरे सहारे जिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है


ये जायदाद दी है, ये औलाद दी है
मुसीबत में हर वक़्त की मदद की है

तेरे ही दिया मैंने खाया पिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है


मेरा ही नहीं तू सभी का है दाता
सभी को सभी कुछ है देता दिलाता

जो खाली था दामन तूने भर दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है


तेरी बंदगी से मै बंदा हूँ मालिक
तेरे ही करम से मै जिन्दा हूँ मालिक

तुम्ही ने तो जीने के काबिल किया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है


मेरा भूल जाना तेरा ना भुलाना
तेरी रहमतो का कहाँ है ठिकाना

तेरी इस मोहब्बत ने पागल किया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है


मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

सीताराम राम राम, सीताराम राम राम
सीताराम राम राम, सीताराम राम राम

सीताराम राम राम, सीताराम राम राम
सीताराम राम राम, सीताराम राम राम


Tags:

-
-

_

Ram Bhajans

  • जिसकी लागी रे लगन भगवान में
    जिसकी लागी रे लगन भगवान में,
    उसका दिया रे जलेगा तूफ़ान में
    अनहोनी को होनी करदे
    उसका नाम है राम रे
  • सुंदरकाण्ड - चौपाई और दोहे - Audio - 3
    तब देखी मुद्रिका मनोहर।
    राम नाम अंकित अति सुंदर॥
    चकित चितव मुदरी पहिचानी।
    हरष बिषाद हृदयँ अकुलानी॥
  • रामा रामा रटते रटते
    श्याम सलोनी मोहिनी मूरत,
    नैयनो बीच बसाऊंगी।
    सुबह शाम नित उठकर मै तो,
    तेरा ध्यान लगाऊँगी।
  • दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया
    दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया।
    राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया॥
    नाम का प्रकाश, जब अंदर जगायेगा।
    प्यारे श्री राम का, तू दर्शन पायेगा।
  • ऐसें मेरे मन में विराजिये
    ऐसें मेरे मन में विराजिये
    की मै भूल जाऊं काम धाम
    गाऊं बस तेरा नाम
    सीता राम सीता राम
  • सीताराम सीताराम सीताराम कहिये
    सीताराम सीताराम सीताराम कहिये,
    जाहि विधि राखे राम, ताहि विधि रहिये।
    मुख में हो राम नाम, राम सेवा हाथ में,
    तू अकेला नहिं प्यारे, राम तेरे साथ में।
  • सुंदरकाण्ड - Sunderkand in Hindi - Index
    हनुमानजी का सीता शोध के लिए लंका प्रस्थान
    सिताजीने हनुमानको आशीर्वाद दिया
    हनुमानजी ने श्रीराम को सीताजी का सन्देश दिया
    भगवान् श्री राम की महिमा
    समुद्र की श्री राम से विनती
  • ना मैं धन चाहूँ, ना रतन चाहूँ
    ना मैं धन चाहूँ, ना रतन चाहूँ
    तेरे चरणों की धूल मिल जाए,
    तो मैं तर जाऊँ, श्याम तर जाऊँ,
    हे राम तर जाऊँ
  • भजमन राम चरण सुखदाई
    भज मन राम चरण सुखदाई, राम चरण सुखदाई
    जिहि चरननसे निकसी सुरसरि, शंकर जटा समाई।
    जटासंकरी नाम परयो है, त्रिभुवन तारन आई॥
    जिन चरननकी चरनपादूका भरत रह्यो लिव लाई।
  • सुंदरकाण्ड - चौपाई और दोहे - Audio - 5
    पूँछहीन बानर तहँ जाइहि।
    तब सठ निज नाथहि लइ आइहि॥
    जिन्ह कै कीन्हिसि बहुत बड़ाई।
    देखउ मैं तिन्ह कै प्रभुताई॥
_

Bhajan List

Ram Bhajans – Hindi
krishna Bhajan – Hindi
Bhajan, Aarti, Chalisa, Dohe – List

_
_

Ram Bhajan Lyrics

  • हम राम जी के, रामजी हमारे हैं
    हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
    हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
    जो लाखो पापियों को तारे है
    जो अधमन को उद्धारे है
    हम उनकी शरण पधारे है
    हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
  • तू राम भजन कर प्राणी
    काया-माया बादल छाया,
    मूरख मन काहे भरमाया।
    उड़ जायेगा साँसका पंछी,
    फिर क्या है आनी-जानी॥
  • दुनिया चले ना श्री राम के बिना
    दुनिया चले ना श्री राम के बिना।
    राम जी चले ना हनुमान के बिना॥
    जब से रामायण पढ़ ली है,
    एक बात मैंने समझ ली है।
    रावण मरे ना श्री राम के बिना,
    लंका जले ना हनुमान के बिना॥
  • सुंदरकाण्ड - चौपाई और दोहे - Audio - 2
    सुनहु पवनसुत रहनि हमारी।
    जिमि दसनन्हि महुँ जीभ बिचारी॥
    तात कबहुँ मोहि जानि अनाथा।
    करिहहिं कृपा भानुकुल नाथा॥
  • राम नाम के हीरे मोती - 1
    राम नाम के हीरे मोती,
    मैं बिखराऊँ गली गली
    ले लो रे कोई राम का प्यारा,
    शोर मचाऊँ गली गली
    क्यूँ करता है तेरी मेरी,
    छोड़ दे अभिमान को
_
_

Bhajans and Aarti

  • दुनिया के मालिक को भगवान कहते हैं
    दुनिया के मालिक को भगवान कहते हैं
    दुनिया के मालिक को भगवान कहते हैं
    संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
    संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
  • नवदुर्गा - माँ दुर्गा का चौथा रूप - माँ कूष्माण्डा
    माँ दुर्गाजीके चौथे स्वरूपका नाम कूष्माण्डा है।
    माँ कूष्माण्डा सृष्टिकी आदि-स्वरूपा और आदि शक्ति हैं।
    नवरात्र-पूजनके चौथे दिन कूष्माण्डा देवीके स्वरूपकी ही उपासना की जाती है।
    देवी की उपासनासे भक्तोंके समस्त रोग-शोक नष्ट हो जाते हैं।
  • चदरिया झीनी रे झीनी
    चदरिया झीनी रे झीनी के राम नाम रस भीनी, चदरिया झीनी रे झीनी।
  • बांके बिहारी मुझको देना सहारा
    बांके बिहारी मुझको देना सहारा।
    कही छूट जाये ना दामन तुम्हारा॥
    तेरे सिवा दिल में समाएं ना कोई,
    लगन का ये दीपक बुझायें ना कोई।
    तू ही मेरी कश्ती, तू ही है किनारा,
    कही छूट जाये ना दामन तुम्हारा॥
  • बहो मेरी नदियाँ, बहो धीरे धीरे
    Video - सुधांशु जी महाराज (Sudhanshu Maharaj)
  • बहो मेरी नदियाँ, बहो धीरे धीरे
    बहो भाव निर्झल, बहो धीरे धीरे
    बहो यो जमाना, बहे साथ तेरे
    बनो एक तराना, की सब गुनगुनाए

  • छुप-छुप आये श्याम लेके ग्वाल बाल है
    छुप-छुप आये श्याम लेके ग्वाल बाल है।
    ऐसो री यशोदा ढीठ तेरो नन्दलाल है।
    ग्वाल बाल संग लेके, घर मेरे आ गये।
    माखन को खाय मेरी मटकी गिरा गये।
    अँगूठा दिखावे चाले टेढ़ी-टेढ़ी चाल है॥
    ऐसो री हटीलो मैया तेरो नन्दलाल है।
  • रख लाज मेरी गणपति
    रख लाज मेरी गणपति,
    अपनी शरण में लीजिए।
    कर आज मंगल गणपति,
    अपनी कृपा अब कीजिए॥
    सिद्धि विनायक दुःख हरण,
    संताप हारी सुख करण।
  • मन का फेर - कबीर के दोहे
    - माला फेरत जुग गया, मिटा न मन का फेर।
    - माया मरी न मन मरा, मर मर गये शरीर।
    - न्हाये धोये क्या हुआ, जो मन का मैल न जाय।
    - मीन सदा जल में रहै, धोये बास न जाय॥
  • दया कर, दान भक्ति का
    दया कर, दान भक्ति का, हमें परमात्मा देना।
    दया करना, हमारी आत्मा को शुद्धता देना॥
    हमारे ध्यान में आओ, प्रभु आँखों में बस जाओ।
    अंधेरे दिल में आकर के परम ज्योति जगा देना॥
  • श्री सिद्धिविनायक देवा
    श्री सिद्धिविनायक देवा
    जय जय गणनायक देवा
    देवा प्रगटे प्रभादेवी
    रिद्धि सिद्धि संग है सेवी
_
_

Bhakti Geet Lyrics

  • अपना चंदा सा मुखड़ा दिखाए जा
    अपना चंदा सा मुखड़ा दिखाए जा
    मोर मुकुट वाले, घुंघराली लट वाले
    तुम बिन मोहन चैन पड़े ना,
    नयनो से उलझाए नैना
    मेरी अखियन बीच समाए जा
    मोर मुकुट वाले, घुंघराली लट वाले
  • नंदलाल गोपाल कृष्ण हरी
    नंदलाल गोपाल कृष्ण हरी,
    वृंदावन मोहे बुला लेना।
    आखों से पर्दा माया का उठा,
    मुझे रूप में अपने रमा लेना॥
  • आओ कन्हैया, आओ मुरारी
    आओ कन्हैया, आओ मुरारी,
    तेरे दर पे आया सुदामा भिखारी॥
    क्या मैं बताऊँ, क्या मैं सुनाऊँ,
    एक दुःख नहीं जो मन में छिपाऊँ।
    घट-घट की जानत हो, तुम हे मुरारी,
    तेरे दरपे आया सुदामा भिखारी॥
  • ओ पालनहारे, निर्गुण और न्यारे
    ओ पालनहारे, निर्गुण और न्यारे
    तुम्हरे बिन हमरा कौनो नाहीं
    हमरी उलझन, सुलझाओ भगवन
    तुम्हरे बिन हमरा कौनो नाहीं
_