Sudhanshu ji Maharaj Bhajans – List – Hindi

Shri Sudhanshu ji Maharaj Bhajan – श्री सुधांशु जी महाराज भजन – Hindi

Sudhanshu ji Maharaj

_

Shri Sudhanshu ji Maharaj Bhajans


  • करता रहूँ गुणगान, मुझे दो ऐसा वरदान
    तेरी दया से हे मनमोहन, मैंने यह नर तन पाया।
    तेरी सेवा में बाधाए डाले जग की मोह माया।
    फिर भी अरज करता हूँ, हो सके तो देना ध्यान॥
    करता रहूँ गुणगान, मुझे दो ऐसा वरदान।


  • जहाँ ले चलोगे, वहीं मैं चलूँगा
    जहाँ ले चलोगे, वहीं मैं चलूँगा।
    जहां नाथ रख लोगे, वहीं मैं रहूँगा॥
    यह जीवन समर्पित, चरण में तुम्हारे।
    तुम्ही मेरे सर्वस्व, तुम्ही प्राण प्यारे।


  • मेरे दाता के दरबार में
    मेरे दाता के दरबार में, सब लोगो का खाता।
    जो कोई जैसी करनी करता, वैसा ही फल पाता॥
    क्या साधू क्या संत गृहस्थी, क्या राजा क्या रानी।
    प्रभू की पुस्तक में लिक्खी है, सबकी कर्म कहानी।
    अन्तर्यामी अन्दर बैठा, सबका हिसाब लगाता॥


  • हम सब मिलके आये दाता तेरे दरबार
    हम सब मिलके आये दाता तेरे दरबार
    भर दे झोली सबकी, तेरे पूर्ण भंडार
    सबसे बढ़के ऊँचा जग मे तेरा दरबार
    भर दे झोली सबकी, तेरे पूर्ण भंडार
    हम सब मिलकर आये दाता तेरे दरबार


  • हे नाथ अब तो ऐसी दया हो
    हे नाथ अब तो ऐसी दया हो
    जीवन निरर्थक जाने न पाए
    ये मन ना जाने क्या क्या कराये
    कुछ बन ना पाए मेरे बनाये


  • उठ नाम सिमर, मत सोए रहो
    उठ नाम सिमर, मत सोए रहो,
    मन अंत समय पछतायेगा।
    जब चिडियों ने चुग खेत लिया,
    फिर हाथ कुछ ना आयेगा॥
    उठ नाम सिमर, मत सोए रहो


  • बंसी वाले बतला, तेरा कहा ठिकाना है
    बंसी वाले बतला,
    तेरा कहा ठिकाना है।
    किस राह पे चलना है,
    किस राह पे जाना है॥



_
_

Shri Sudhanshu ji Maharaj Bhajans