Tera Ramji Karenge Beda Paar – Hindi

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार,
उदासी मन काहे को करे
नैय्या तेरी राम हवाले,
लहर लहर हरी आप संभाले।

Hari Om Sharan

_

Tera Ramji Karenge Beda Paar – Lyrics in Hindi


राम नाम सोही जानिए,
जो रमता सकल जहा।
घट घट में जो रम रहा,
उसको राम पहचान॥


तेरा राम जी करेंगे बेडा पार,
उदासी मन काहे को करे
तेरा राम जी करेंगे बेडा पार,
उदासी मन काहे को करे रे

काहे को डरे रे, काहे को डरे
काहे को डरे रे, काहे को डरे
तेरा राम जी करेंगे बेडा पार,
उदासी मन काहे को करे


नैय्या तेरी राम हवाले,
लहर लहर हरी आप संभाले।
हरी आप ही उठावे तेरा भार
उदासी मन काहे को करे॥

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे रे
काहे को डरे रे, काहे को डरे

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे


काबू में मझधार उसीके
हाथो में पतवार उसीके।
तेरी हार भी नहीं है तेरी हार
उदासी मन काहे को करे॥

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे रे
काहे को डरे रे, काहे को डरे

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे


सहज किनारा मिल जायेगा,
परम सहारा मिल जाएगा।
डोरी सौंप के तू देख एक बार
उदासी मन काहे को करे॥

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे रे
काहे को डरे रे, काहे को डरे

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे


तू निर्दोष, तुझे क्या डर है
पग पग पर साथी ईश्वर है।
जरा भावना से कर ले पुकार
उदासी मन काहे को करे॥

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे रे
काहे को डरे रे, काहे को डरे

तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे


तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे


Tags:

-
-

_

Ram Bhajans

  • श्री विष्णु सहस्त्रनाम
    Vishnu Sahasranamam Lyrics ॐ विश्वं विष्णु: वषट्कारो भूत-भव्य-भवत-प्रभुः। भूत-कृत भूत-भृत भावो भूतात्मा भूतभावनः॥ Sri Vishnu Sahasranamam in Hindi ॐ नमो … Continue reading Sri Vishnu Sahasranamam – Hindi
  • राम नाम के हीरे मोती - 1
    राम नाम के हीरे मोती,
    मैं बिखराऊँ गली गली
    ले लो रे कोई राम का प्यारा,
    शोर मचाऊँ गली गली
    क्यूँ करता है तेरी मेरी,
    छोड़ दे अभिमान को
  • सुंदरकाण्ड - 18
    प्रगट बखानहिं राम सुभाऊ।
    अति सप्रेम गा बिसरि दुराऊ॥
    रिपु के दूत कपिन्ह तब जाने।
    सकल बाँधि कपीस पहिं आने॥
    और देखते देखते प्रेम ऐसा बढ़ गया कि वह (रावणदूत शुक) छिपाना भूल कर रामचन्द्रजीके स्वभावकी प्रकटमें प्रशंसा करने लगा॥
  • प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी
    प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी
    जाकी अंग-अंग बास समानी
    प्रभु जी, तुम घन बन हम मोरा
    जैसे चितवत चंद चकोरा
    प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी
  • उठ नाम सिमर, मत सोए रहो
    उठ नाम सिमर, मत सोए रहो,
    मन अंत समय पछतायेगा।
    जब चिडियों ने चुग खेत लिया,
    फिर हाथ कुछ ना आयेगा॥
    उठ नाम सिमर, मत सोए रहो
  • आसरा इस जहाँ का मिले ना मिले
    आसरा इस जहाँ का मिले ना मिले।
    मुझको तेरा सहारा सदा चाहिये॥
    मेरी धीमी है चाल और पथ है विशाल।
    हर कदम पर मुसीबत, अब तू ही संभाल॥
  • भजन बिना, चैन न आये राम
    Lyrics
  • भजन बिना, चैन न आये राम।
    कोई न जाने, कब हो जाये,
    इस जीवन की शाम॥
    मोह माया की आस तो पगले,होगी कभी ना पूरी

  • सुंदरकाण्ड - 2
    मसक समान रूप कपि धरी।
    लंकहि चलेउ सुमिरि नरहरी॥
    नाम लंकिनी एक निसिचरी।
    सो कह चलेसि मोहि निंदरी॥
    हनुमानजी मच्छर के समान, छोटा-सा रूप धारण कर, प्रभु श्री रामचन्द्रजी के नाम का सुमिरन करते हुए लंका में प्रवेश करते है॥
  • सीताराम सीताराम सीताराम कहिये
    सीताराम सीताराम सीताराम कहिये,
    जाहि विधि राखे राम, ताहि विधि रहिये।
    मुख में हो राम नाम, राम सेवा हाथ में,
    तू अकेला नहिं प्यारे, राम तेरे साथ में।
  • पायो जी मैंने राम रतन धन पायो
    पायो जी मैंने राम रतन धन पायो।
    वस्तु अमोलक दी मेरे सतगुरु
    किरपा कर अपनायो
    जनम जनम की पूंजी पाई
    जग में सभी खोवायो
_

ईश्वर महिमा

राम-राम राम-राम,
राम-राम राम-राम

अजामील दुख टारन हारे,
गज गणिकाके तारन हारे,
दुपद-सुता भय वारन हारे,
सुखमय मङ्गलधाम॥
राम-राम राम-राम,
राम-राम राम-राम


तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे

 

_

Bhajan List

Ram Bhajans – Hindi
krishna Bhajan – Hindi
Bhajan, Aarti, Chalisa, Dohe – List

_

भक्ति रस

तुझ पर-धन-जन-तन मन वारे,
तुझ प्रेमामृत-मद मतवारे,
धन्य धन्य! वे जग उजियारे,
जिनके मुख यह नाम॥
राम-राम राम-राम,
राम-राम राम-राम


तेरा राम जी करेंगे बेडा पार
उदासी मन काहे को करे

_
_

Ram Bhajan Lyrics

  • सुंदरकाण्ड - 5
    तब देखी मुद्रिका मनोहर।
    राम नाम अंकित अति सुंदर॥
    चकित चितव मुदरी पहिचानी।
    हरष बिषाद हृदयँ अकुलानी॥
    फिर सीताजीने उस मुद्रिकाको देखा तो वह सुन्दर मुद्रिका रामचन्द्रजीके मनोहर नामसे अंकित हो रही थी अर्थात उसपर श्री राम का नाम खुदा हुआ था॥
  • महिमा वरणी ना जाये
    Lyrics
  • महिमा वरणी ना जाये,
    दशरथ नंदन राम की।
    जै बोलो श्रीराम की,
    जै बोलो प्रभु राम की॥

  • श्री विष्णु चालीसा
    नमो विष्णु भगवान खरारी।
    कष्ट नशावन अखिल बिहारी॥
    प्रबल जगत में शक्ति तुम्हारी।
    त्रिभुवन फैल रही उजियारी॥
  • ना मैं धन चाहूँ, ना रतन चाहूँ
    ना मैं धन चाहूँ, ना रतन चाहूँ
    तेरे चरणों की धूल मिल जाए,
    तो मैं तर जाऊँ, श्याम तर जाऊँ,
    हे राम तर जाऊँ
  • हमारे साथ श्री रघुनाथ तो किस बात की चिंता
    हमारे साथ श्री रघुनाथ तो किस बात की चिंता
    शरण में रख दिया जब माथ तो किस बात की चिंता
    किया करते हो तुम दिन रात क्यों बिन बात की चिंता
    तेरे स्वामी को रहती है, तेरे हर बात की चिंता
_
_

Bhajans and Aarti

  • श्री शिव पंचाक्षर स्तोत्र - अर्थ सहित
    नागेंद्रहाराय त्रिलोचनाय
    भस्मांग रागाय महेश्वराय।
    पंचाक्षरमिदं पुण्यं यः – जो कोई शिव के इस पंचाक्षर मंत्र का
    पठेत् शिव सन्निधौ – नित्य ध्यान करता है
  • मेरे दाता के दरबार में
    मेरे दाता के दरबार में, सब लोगो का खाता।
    जो कोई जैसी करनी करता, वैसा ही फल पाता॥
    क्या साधू क्या संत गृहस्थी, क्या राजा क्या रानी।
    प्रभू की पुस्तक में लिक्खी है, सबकी कर्म कहानी।
    अन्तर्यामी अन्दर बैठा, सबका हिसाब लगाता॥
  • भोर भई दिन चढ़ गया - माँ वैष्णो देवी आरती
    भोर भई दिन चढ़ गया, मेरी अम्बे
    हो रही जय जय कार मंदिर विच
    आरती जय माँ
    हे दरबारा वाली, आरती जय माँ
  • जय जय नारायण नारायण, हरि हरि
    जय जय नारायण नारायण, हरि हरि
    स्वामी नारायण नारायण, हरि हरि
    प्रभु के नाम का पारस जो छूले, वो हो जाए सोना
    दो अक्षर का शब्द हरि है, लकिन बड़ा सलोना
    तेरी लीला सब से न्यारी न्यारी, हरि हरि
    तेरी महिमा प्रभु है प्यारी प्यारी, हरि हरि
  • भक्ति - कबीर के दोहे
    - कामी क्रोधी लालची, इनसे भक्ति ना होय।
    - भक्ति बिन नहिं निस्तरे, लाख करे जो कोय।
    - भक्ति भक्ति सब कोई कहै, भक्ति न जाने भेद।
    - भक्ति जु सीढ़ी मुक्ति की, चढ़े भक्त हरषाय।
  • प्रेमभूषणजी महाराज भजन - List
    अनमोल तेरा जीवन यूँही गँवा रहा है
    मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
    भज ले प्राणी रे अज्ञानी
    हम राम जी के, रामजी हमारे हैं
  • माता रानी का ध्यान धरिये
    माता रानी का ध्यान धरिये
    काम जब भी कोई करिए
    कोई मुश्किल हो पल में टलेगी,
    हर जगह पे सफलता मिलेगी
  • मेरे गणपति बेडा पार करो
    मेरे गणपति बेडा पार करो,
    रस भक्ति का हर बार भरो
    मन मंदिर पावन हो जाये
    मुझे मे ऐसा ही ज्ञान भरो
  • नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
    नटवर नागर नंदा,
    भजो रे मन गोविंदा।
    सब देवोँ में देव बड़े हैं
    श्याम बिहारी नंदा
  • फूलो में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन बिहारी
    फूलो में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन बिहारी।
    और साथ सज रही हैं, वृषभान की दुलारी॥
    टेढ़ा सा मुकुट सर पर, रखा है किस अदा से।
    करुणा बरस रही है, करुणा भरी निगाह से।
_
_

Bhakti Geet Lyrics

  • माता वैष्णो के आए नवरात्रे
    मालिने बनादे एक सेहरा नी,
    माता वैष्णो के आए नवरात्रे।
    फूल श्रद्धा के होएंगे जब अर्पण,
    शुद्ध होएगा रे मनवा का दर्पण।
  • कबीर के भजन
    मन लाग्यो मेरो यार, फ़कीरी में
    साई की नगरिया जाना है रे बंदे
    रे दिल गाफिल, गफलत मत कर
    दु:ख में सुमिरन सब करै, सुख में करै न कोय।
  • आजा कलयुग में ले के अवतार, ओ गोविन्द
    आजा कलयुग में ले के अवतार, ओ गोविन्द
    अपने भक्तो की सुनले पुकार, ओ गोविन्द
    यमुना का पानी तोसे करता सवाल है
    तेरे बिना देख ज़रा कैसा बुरा हाल है
    आजा कलयुग में ले के अवतार, ओ गोविन्द
  • ओम नमः शिवाय, हर हर भोले
    ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय
    हर हर भोले नमः शिवाय
    रामेश्वराय शिव रामेश्वराय
    हर हर भोले नमः शिवाय
  • हे माँ मुझको ऐसा घर दे
    हे माँ मुझको ऐसा घर दे,
    जिसमे तुम्हारा मंदिर हो।
    छोटे बड़े का माँ उस घर में,
    एक सामान ही आदर हो।
    ज्योत जगे दिन रैन तुम्हारी,
    तुम मंदिर के अन्दर हो॥
_