Bhaye Pragat Kripala, Deen Dayala – Hindi

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी॥

जगजीत सिंह (Jagjit Singh)

Narendra Chanchal

_

Bhaye Pragat Kripala, Deen Dayala – Lyrics


भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी॥

लोचन अभिरामा, तनु घनस्यामा,
निज आयुध भुजचारी।
भूषन बनमाला, नय बिसाला,
सोभासिंधु खरारी॥


कह दुइ कर जोरी, अस्तुति तोरी,
केहि बिधि करूं अनंता।
माया गुन ग्यानातीत अमाना,
वेद पुरान भनंता॥

करुना सुख सागर, सब गुन आगर,
जेहि गावहिं श्रुति संता।
सो मम हित लागी, जन अनुरागी,
भयउ प्रगट श्रीकंता॥


ब्रह्मांड निकाया, निर्मित माया,
रोम रोम प्रति बेद कहै।
मम उर सो बासी, यह उपहासी,
सुनत धीर मति थिर न रहै॥

उपजा जब ग्याना, प्रभु मुसुकाना,
चरित बहुत बिधि कीन्ह चहै।
कहि कथा सुहाई, मातु बुझाई,
जेहि प्रकार सुत प्रेम लहै॥


माता पुनि बोली, सो मति डोली,
तजहु तात यह रूपा।
कीजै सिसुलीला, अति प्रियसीला,
यह सुख परम अनूपा॥

सुनि बचन सुजाना, रोदन ठाना,
होइ बालक सुरभूपा।
यह चरित जे गावहिं, हरिपद पावहिं,
ते न परहिं भवकूपा॥


भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी॥


श्री राम, जय राम, जय जय राम
श्री राम, जय राम, जय जय राम


For more bhajans from category, Click -

-
-

_

Ram Bhajans and Aarti List

  • तेरे मन में राम
    तेरे मन में राम, तन में राम,
    रोम रोम में राम रे।
    राम सुमीर ले, ध्यान लगाले,
    छोड़ जगत के काम रे॥
    बोलो राम, बोलो राम, बोलो राम राम राम।
  • मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
    मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
    तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
    ना मिलती अगर दी हुई दात तेरी
    तो क्या थी ज़माने में औकात मेरी
    ये बंदा तो तेरे सहारे जिया है
    तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
  • सुंदरकाण्ड - 2
    मसक समान रूप कपि धरी।
    लंकहि चलेउ सुमिरि नरहरी॥
    नाम लंकिनी एक निसिचरी।
    सो कह चलेसि मोहि निंदरी॥
    हनुमानजी मच्छर के समान, छोटा-सा रूप धारण कर, प्रभु श्री रामचन्द्रजी के नाम का सुमिरन करते हुए लंका में प्रवेश करते है॥
  • हम राम जी के, रामजी हमारे हैं
    हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
    हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
    जो लाखो पापियों को तारे है
    जो अधमन को उद्धारे है
    हम उनकी शरण पधारे है
    हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
  • Naam Jap Le Gadi Do Gadi – Hindi

    Lyrics
  • टूटे भक्ति की ना ये लड़ी, नाम जप ले घडी दो घडी। मोह-माया से अब मन को मोड़ो..

  • दर्शन दे दो प्यारे हो
    Lyrics
  • दर्शन दे दो प्यारे हो,
    अवध के राज दुलारे हो।
    प्राणों के प्रिय प्यारे हो,
    मम नयनन के तारे हो॥

  • सुंदरकाण्ड - 18
    प्रगट बखानहिं राम सुभाऊ।
    अति सप्रेम गा बिसरि दुराऊ॥
    रिपु के दूत कपिन्ह तब जाने।
    सकल बाँधि कपीस पहिं आने॥
    और देखते देखते प्रेम ऐसा बढ़ गया कि वह (रावणदूत शुक) छिपाना भूल कर रामचन्द्रजीके स्वभावकी प्रकटमें प्रशंसा करने लगा॥
  • कभी राम बनके, कभी श्याम बनके
    कभी राम बनके, कभी श्याम बनके,
    चले आना, प्रभुजी चले आना,
    तुम राम रूप में आना
    सीता साथ लेके, धनुष हाथ लेके,
    चले आना, प्रभुजी चले आना
  • जिसकी लागी रे लगन भगवान में
    जिसकी लागी रे लगन भगवान में,
    उसका दिया रे जलेगा तूफ़ान में
    अनहोनी को होनी करदे
    उसका नाम है राम रे
  • शान्ताकारं भुजगशयनं पद्मनाभं सुरेशं - अर्थ सहित
    शान्ताकारं भुजगशयनं
    पद्मनाभं सुरेशं
    विश्वाधारं गगनसदृशं
    मेघवर्ण शुभाङ्गम्।
_

Bhajans List

Ram Bhajans – Hindi
krishna Bhajan – Hindi
Bhajan, Aarti, Chalisa, Dohe – List

_
_

Ram Bhajan Lyrics

  • सुंदरकाण्ड - 17
    सुनु लंकेस सकल गुन तोरें।
    तातें तुम्ह अतिसय प्रिय मोरें॥
    राम बचन सुनि बानर जूथा।
    सकल कहहिं जय कृपा बरूथा॥
    हे लंकेश (लंकापति)! सुनो, आपमें सब गुण है और इसीसे आप मुझको अतिशय प्यारें लगते हो॥
  • प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी
    प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी
    जाकी अंग-अंग बास समानी
    प्रभु जी, तुम घन बन हम मोरा
    जैसे चितवत चंद चकोरा
    प्रभु जी, तुम चंदन हम पानी
  • हमारे साथ श्री रघुनाथ तो किस बात की चिंता
    हमारे साथ श्री रघुनाथ तो किस बात की चिंता
    शरण में रख दिया जब माथ तो किस बात की चिंता
    किया करते हो तुम दिन रात क्यों बिन बात की चिंता
    तेरे स्वामी को रहती है, तेरे हर बात की चिंता
  • उठ नाम सिमर, मत सोए रहो
    उठ नाम सिमर, मत सोए रहो,
    मन अंत समय पछतायेगा।
    जब चिडियों ने चुग खेत लिया,
    फिर हाथ कुछ ना आयेगा॥
    उठ नाम सिमर, मत सोए रहो
  • भजन बिना, चैन न आये राम
    Lyrics
  • भजन बिना, चैन न आये राम।
    कोई न जाने, कब हो जाये,
    इस जीवन की शाम॥
    मोह माया की आस तो पगले,होगी कभी ना पूरी

_
_

Bhajans and Aarti

_
_

Bhakti Geet Lyrics

_