Tu Hai Mohan Mera

Krishna Mantra Jaap (श्री कृष्ण मंत्र जाप)

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय हरे राम – हरे कृष्ण श्री कृष्ण शरणम ममः
हरे कृष्ण हरे कृष्ण – कृष्ण कृष्ण हरे हरे – हरे राम हरे राम – राम राम हरे हरे
Krishna Bhajan
_

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा


तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


छोड़ दी अपनी कश्ती तेरे नाम पर
अब पार लगाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा


मैंने तुझको बिसारा गुनहगार हूँ
कैसे मुख को दिखाऊं, मै शर्मसार हूँ

जिस तरह से वो रीझे वही राह लूं
ऐसी राह पे चलाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


छीन कर दिल को तूने क्या जादू किया
मेरा हाथों से दिल को बेकाबू किया

प्रेम विरह की अग्नि जले रात दिन
अब लगी को बुझाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


तू मालिक है, मैं हूँ पुजारी तेरा
तू दाता है, मैं हूँ भिखारी तेरा

मस्त हरदम रहूँ मैं तेरी याद में
ऐसा जाम पिलाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


है सबको पता, मैंने तुझको वरा
जान दे दूंगी तूने जुदा जो किया

होगी बदनामी तेरी, ये खुद जान लो
मेरी लाज बचाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


हंस के तुम चल दिए, मैं रोती रही
ना मुड़ के सुधि, इस अभागिन की ली
अब आना ना आना, तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


बड़ा दर्द है दिल में तेरे प्यार का
कैसे दर्शन हो प्यारे दिलदार का

तेरी बाँकी अदा ने हमें घायल किया
अब दवा को पिलाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


तेरे चरणों में आकर झुकाया है सर
नहीं दुनियां में कोई तेरे जैसा दर
चरणों से लगाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है


छोड़ दी अपनी कश्ती तेरे नाम पर
अब पार लगाना तेरा काम है

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा
मेरी बिगड़ी बनाना तेरा काम है

Tu Hai Mohan Mera, Mai Diwana Tera
Tu Hai Mohan Mera, Mai Diwana Tera

तू है मोहन मेरा, मैं दीवाना तेरा

_

Krishna Bhajans

_
_

Tu Hai Mohan Mera, Mai Diwana Tera

Shri Mridul Krishna Shastri

_

Tu Hai Mohan Mera, Mai Diwana Tera


Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Chhod di apni kashti tere naam par
Ab paar lagaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Tu hai Mohan mera, mai diwana tera

Maine tujhako bisaara gunahagaar hoon
Kaise mukh ko dikhaau, mai sharmasaar hoon

Jis tarah se vo rijhe vahi raah loon
Aisi raah pe chalaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Chhin kar dil ko toone kya jaadu kiya
Mera haathon se dil ko bekaabu kiya

Prem virah ki agni jale raat din
Ab lagi ko bujhaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Tu maalik hai, main hoon pujaari tera
Tu daata hai, main hoon bhikhaari tera

Mast hardam rahoon main teri yaad mein
Aisa jaam pilaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Hai sabako pata, mainne tujhako vara
Jaan de doongi toone juda jo kiya

Hogi badanaami teri, ye khud jaan lo
Meri laaj bachaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Hans ke tum chal diye, main roti rahi
Na mud ke sudhi, is abhaagin ki li
Ab aana na aana, tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Bada dard hai dil mein tere pyaar ka
Kaise darshan ho pyaare diladaar ka

Teri baanki ada ne hamen ghaayal kiya
Ab dava ko pilaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Tere charanon mein aakar jhukaaya hai sar
Nahin duniyaan mein koi tere jaisa dar
Charanon se lagaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Chhod di apni kashti tere naam par
Ab paar lagaana tera kaam hai

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera
Meri bigadi banaana tera kaam hai

Tu Hai Mohan Mera, Mai Diwana Tera
Tu Hai Mohan Mera, Mai Diwana Tera

Tu hai Mohan mera, mai diwana tera

_

Krishna Bhajans

_