Holi Khel Rahe Nandlal, Vrindavan – 1

होली खेल रहे नन्दलाल, वृन्दावन की कुंज गलिन में – 1

Krishna Mantra Jaap (श्री कृष्ण मंत्र जाप)

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय हरे राम – हरे कृष्ण श्री कृष्ण शरणम ममः
हरे कृष्ण हरे कृष्ण – कृष्ण कृष्ण हरे हरे – हरे राम हरे राम – राम राम हरे हरे

होली खेल रहे नन्दलाल,
वृन्दावन की कुंज गलिन में।
वृन्दावन की कुंज गलिन में,
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥


संग सखा श्याम के आये,
रंग भर पिचकारी लाए।
हो कर रहे सबका हाल बेहाल
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥

वृन्दावन की कुंज गलिन में,
वृन्दावन की कुंज गलिन में।
होली खेल रहे नन्दलाल,
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥


चल गली रँगीली आए,
ढप-झाँझ-मृदंग बजाए।
गाँवें नाचें, छेड़ें तान
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥

वृन्दावन की कुंज गलिन में,
वृन्दावन की कुंज गलिन में।
होली खेल रहे नन्दलाल,
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥


रंग भर पिचकारी मारी,
चूनर की आब बिगारी।
मेरे मुख पे मला गुलाल
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥

वृन्दावन की कुंज गलिन में,
वृन्दावन की कुंज गलिन में।
होली खेल रहे नन्दलाल,
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥


छवि निरख श्याम की प्यारी,
सब भक्त बजावे तारी।
सब पर रंग डाल रहे ग्वाल,
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥

वृन्दावन की कुंज गलिन में,
वृन्दावन की कुंज गलिन में।
होली खेल रहे नन्दलाल,
वृन्दावन की कुंज गलिन में॥

_

Holi Khel Rahe Nandlal, Vrindavan – 1

Banwari Maharaj

_

_

Krishna Bhajan List

_

Holi Khel Rahe Nandlal, Vrindavan – 1

Holi khel rahe Nandlal,
Vrindavan ki kunj galin me.
Vrindavan ki kunj galin me,
Vrindavan ki kunj galin me.


Sang sakha Shyam ke aaye,
rang bhar pichakaari laaye.
Ho kar rahe sabaka haal behaal
Vrindavan ki kunj galin me.

Vrindavan ki kunj galin me,
Vrindavan ki kunj galin me.
Holi khel rahe Nandlal,
Vrindavan ki kunj galin me.


Chal gali rangili aaye,
dhap-jhaanjh-mridang bajaye.
Gaave naache, chhede taan
Vrindavan ki kunj galin me.

Vrindavan ki kunj galin me,
Vrindavan ki kunj galin me.
Holi khel rahe Nandlal,
Vrindavan ki kunj galin me.


Rang bhar pichakaari maari,
choonar ki aab bigaari.
Mere mukh pe mala gulaal
Vrindavan ki kunj galin me.

Vrindavan ki kunj galin me,
Vrindavan ki kunj galin me.
Holi khel rahe Nandlal,
Vrindavan ki kunj galin me.


Chhavi nirakh Shyam ki pyaari,
sab bhakt bajaave taari.
Sab par rang daal rahe gvaal,
Vrindavan ki kunj galin me.

Vrindavan ki kunj galin me,
Vrindavan ki kunj galin me.
Holi khel rahe Nandlal,
Vrindavan ki kunj galin me॥

_