Hey Gopal Krishna Karu Aarti Teri – Hindi

हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी

हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी
तुझपे ओ कान्हा बलि बलि जाऊं
सांझ सवेरे तेरे गुण गाउँ

_

Hey Gopal Krishna Karun Aarti Teri


हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी

Gopal Krishna Aarti


तुझपे ओ कान्हा बलि बलि जाऊं
सांज सवेरे तेरे गुण गाउँ

प्रेम में रंगी मैं, रंगी भक्ति में तेरी
हे गोपाल कृष्णा, करूँ आरती तेरी


हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी

तुझपे ओ कान्हा बलि बलि जाऊं
सांझ सवेरे तेरे गुण गाउँ

प्रेम में रंगी मैं, रंगी भक्ति में तेरी
हे गोपाल कृष्णा, करूँ आरती तेरी


ये माटी का (मेरा) तन है तेरा,
मन और प्राण भी तेरे
मैं एक गोपी, तुम हो कन्हैया
तुम हो भगवन मेरे
कृष्ण कृष्ण कृष्ण रटे आत्मा मेरी

हे गोपाल कृष्णा करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी


कान्हा तेरा रूप अनुपम,
मन को हरता जाये
मन ये चाहे हरपल अंखियां,
तेरा दर्शन पाये
दर्श तेरा, प्रेम तेरा, आश है मेरी

हे गोपाल कृष्ण करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी


हे गोपाल कृष्ण करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति मैं करूँ आरती तेरी

तुझपे ओ कान्हा बलि बलि जाऊं
सांज सवेरे तेरे गुण गाउँ
प्रेम में रंगी मैं रंगी भक्ति में तेरी

हे गोपाल कृष्ण करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति मैं करूँ आरती तेरी


For more bhajans from category, Click -

-
-

_

Shri Krishna Bhajans in Hindi

  • मैं आरती तेरी गाउँ, ओ केशव कुञ्ज बिहारी
    मैं आरती तेरी गाउँ, ओ केशव कुञ्ज बिहारी।
    मैं नित नित शीश नवाऊँ, ओ मोहन कृष्ण मुरारी॥
    जो आए शरण तिहारी, विपदा मिट जाए सारी।
    हम सब पर कृपा रखना, ओ जगत के पालनहारी॥
  • नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की
    आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
    नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥
    बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
    हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥
    जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
    हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥
  • ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला
    ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला।
    कितना सुंदर लागे बिहारी, कितना लागे प्यारा॥
    मुख पे माखन मलता, तू बल घुटने के चलता,
    देख यशोदा भाग्य को, देवों का भी मन जलता।
  • फूलो में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन बिहारी
    फूलो में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन बिहारी।
    और साथ सज रही हैं, वृषभान की दुलारी॥
    टेढ़ा सा मुकुट सर पर, रखा है किस अदा से।
    करुणा बरस रही है, करुणा भरी निगाह से।
  • मेरा आपकी कृपा से, सब काम हो रहा है
    मेरा आपकी कृपा से, सब काम हो रहा है।
    करते हो तुम कन्हैया, मेरा नाम हो रहा है॥
    हैरान है ज़माना, मंजिल भी मिल रही है।
    करता नहीं मैं कुछ भी, सब काम हो रहा है॥
  • मधुराष्टकम - अर्थ साहित - अधरं मधुरं वदनं मधुरं
    अधरं मधुरं वदनं मधुरं,
    नयनं मधुरं हसितं मधुरम्।
    हृदयं मधुरं गमनं मधुरं,
    मधुराधिपतेरखिलं मधुरम्॥
    अधरं मधुरं - श्री कृष्ण के होंठ मधुर हैं
    वदनं मधुरं - मुख मधुर है
    नयनं मधुरं - नेत्र (ऑंखें) मधुर हैं
    हसितं मधुरम् - मुस्कान मधुर है
  • हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी
    हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी
    हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी
    तुझपे ओ कान्हा बलि बलि जाऊं
    सांज सवेरे तेरे गुण गाउँ
  • अरे द्वारपालों, कन्हैया से कह दो
    अरे द्वारपालों, कन्हैया से कह दो,
    के दर पे सुदामा गरीब आ गया है
    भटकते भटकते न जाने कहां से
    तुम्हारे महल के करीब आ गया है
    सुनते ही दौड़े चले आये मोहन
    लगाया गले से सुदामा को मोहन
  • छोटी छोटी गैया, छोटे छोटे ग्वाल
    छोटी छोटी गैया, छोटे छोटे ग्वाल
    छोटो सो मेरो मदन गोपाल
    कारी कारी गैया, गोरे गोरे ग्वाल।
    श्याम वरण मेरो मदन गोपाल॥
    छोटी छोटी लकुटी, छोले छोटे हाथ।
    बंसी बजावे मेरो मदन गोपाल॥
  • जगत के रंग क्या देखूँ, तेरा दीदार काफी है
    जगत के रंग क्या देखूँ,
    तेरा दीदार काफी है।
    करूँ मैं प्यार किस किस से,
    तेरा एक प्यार काफी है॥
    मेरी आँखों में हों हरदम,
    तेरा चमकार काफी है॥
_

भक्ति रस

हम आये शरण तुम्हारी है,
ठुकरा न कहीं हमको देना।
भगवान् दया के सागर हो,
अपराध क्षमा सब कर देना॥

है पास न मेरे बल बुद्धि,
तप त्याग नहीं मन की शुद्धि
प्रभु का ही सहारा है लेना,
अपराध क्षमा सब कर देना॥


हे गोपाल कृष्ण करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति मैं करूँ आरती तेरी

_

Bhajan List

Krishna Bhajans – Hindi
Ram Bhajans – Hindi
Bhajan, Aarti, Chalisa, Dohe – Hindi List

_

प्रार्थना

हम लगे डूबने जहां कहीं,
हो कोई अपना वहां नहीं।
प्रभु आकर हमें बचा लेना,
अपराध क्षमा सब कर देना॥

हम आये शरण तुम्हारी है,
ठुकरा न कहीं हमको देना।
भगवान् दया के सागर हो,
अपराध क्षमा सब कर देना॥


हे गोपाल कृष्ण करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति मैं करूँ आरती तेरी

_

Krishna Bhajan Lyrics

_
_

Bhakti Geet and Aarti

  • श्री गणेश आरती - सुखकर्ता दुखहर्ता - जय देव, जय मंगलमूर्ती
    सुखकर्ता दुखहर्ता वार्ता विघ्नाची।
    नुरवी पुरवी प्रेम कृपा जयाची॥
    जय देव, जय देव, जय मंगलमूर्ती
    दर्शनमात्रे मन कामनापु्र्ती
    जय देव, जय देव
  • दुर्गा आरती - जय अम्बे गौरी
    जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी।
    तुमको निशिदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिव री॥
    (श्री) अम्बेजी की आरती, जो कोई नर गावै।
    कहत शिवानंद स्वामी, सुख सम्पत्ति पावै॥
    ॥मैया जय अम्बे गौरी॥
  • आज तेरा जगराता माता, आज तेरा जगराता
    आज तेरा जगराता माता, आज तेरा जगराता
    जगमग करती पावन ज्योति, हर कोई शीश झुकाता
    जिनके सर पे हाथ तुम्हारा
    तूफानों में पाए किनारा
    वो ना बहके वो ना भटके
    तू दे जिनको आप सहारा
  • हनुमान चालीसा - जय हनुमान ज्ञान गुन सागर
    जय हनुमान ज्ञान गुन सागर।
    जय कपीस तिहुँ लोक उजागर॥
    राम दूत अतुलित बल धामा।
    अंजनि पुत्र पवनसुत नामा॥
  • आज मंगलवार है, महावीर का वार है
    आज मंगलवार है, महावीर का वार है,
    यह सच्चा दरबार है।
    सच्चे मन से जो कोई ध्यावे,
    उसका बेडा पार है॥
    राम नाम आधार है,
    महावीर का वार है।
  • इतनी शक्ति हमें देना दाता
    इतनी शक्ति हमें देना दाता
    मन का विश्वास कमजोर हो ना।
    हम चले नेक रस्ते पे हमसे
    भूलकर भी कोई भूल हो ना॥
  • दया कर, दान भक्ति का
    दया कर, दान भक्ति का, हमें परमात्मा देना।
    दया करना, हमारी आत्मा को शुद्धता देना॥
    हमारे ध्यान में आओ, प्रभु आँखों में बस जाओ।
    अंधेरे दिल में आकर के परम ज्योति जगा देना॥
  • चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है
    चलो बुलावा आया है,
    माता ने बुलाया है।
    वैष्णो देवी के मन्दिर मे,
    लोग मुरादे पाते है।
    रोते रोते आते है,
    हँसते हँसते जाते है।
  • सुंदरकाण्ड - सरल हिंदी में (1)
    जामवंत के बचन सुहाए।
    सुनि हनुमंत हृदय अति भाए॥
    तब लगि मोहि परिखेहु तुम्ह भाई।
    सहि दुख कंद मूल फल खाई॥
    जाम्बवान के सुहावने वचन सुनकर हनुमानजी को अपने मन में वे वचन बहुत अच्छे लगे॥
  • गुरु महिमा - 1 - कबीर के दोहे
    - गुरु गोविंद दोऊँ खड़े, काके लागूं पांय।
    - गुरु आज्ञा मानै नहीं, चलै अटपटी चाल।
    - गुरु बिन ज्ञान न उपजै, गुरु बिन मिलै न मोष।
    - सतगुरू की महिमा अनंत, अनंत किया उपकार।
  • सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को
    सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को
    मिल जाये तरुवर की छाया।
    ऐसा ही सुख मेरे मन को मिला है,
    मैं जब से शरण तेरी आया, मेरे राम॥
_
_

Bhakti Song Lyrics

  • ऐ मालिक तेरे बंदे हम
    ऐ मालिक तेरे बंदे हम,
    ऐसे हो हमारे करम।
    नेकी पर चले और बदी से टले,
    ताकी हसते हुये निकले दम॥
    ऐ मालिक तेरे बंदे हम।
  • श्री गणेश आरती - गणपति की सेवा मंगल मेवा
    गणपति की सेवा मंगल मेवा,
    सेवा से सब विध्न टरें।
    तीन लोक तैतिस देवता,
    द्वार खड़े सब अर्ज करे॥
    (तीन लोक के सकल देवता,
    द्वार खड़े नित अर्ज करें॥)
  • अम्बे तू है जगदम्बे काली
    अम्बे तू है जगदम्बे काली,
    जय दुर्गे खप्पर वाली।
    तेरे ही गुण गायें भारती,
    नहीं मांगते धन और दौलत,
    ना चाँदी, ना सोना।
    हम तो मांगे माँ तेरे मन में,
    इक छोटा सा कोना॥
  • नवदुर्गा - माँ दुर्गा के नौ रुप
    नवरात्रि में दुर्गा पूजा के अवसर पर माँ के नौ रूपों की पूजा-उपासना की जाती है। इन नव दुर्गा को पापों के विनाशिनी कहा जाता है।
    शैलपुत्री (Shailaputri)
    व्रह्मचारणी (Brahmacharini)
    चन्द्रघन्टा (Candraghanta)
    कूष्माण्डा (Kusamanda)
    स्कन्दमाता (Skandamata)
  • अब सौंप दिया इस जीवन का सब भार
    अब सौंप दिया इस जीवन का,
    सब भार तुम्हारे हाथों में
    है जीत तुम्हारे हाथों में,
    और हार तुम्हारे हाथों में

Hey Gopal Krishna Karun Aarti Teri

हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी
हे प्रिया पति, मैं करूँ आरती तेरी
तुझपे ओ कान्हा बलि बलि जाऊं
सांज सवेरे तेरे गुण गाउँ
प्रेम में रंगी मैं, रंगी भक्ति में तेरी
हे गोपाल कृष्ण, करूँ आरती तेरी

_