Dilbar ki Ada Nirali Hai

दिलबर की अदा निराली है

Krishna Mantra Jaap (श्री कृष्ण मंत्र जाप)

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय हरे राम – हरे कृष्ण श्री कृष्ण शरणम ममः
हरे कृष्ण हरे कृष्ण – कृष्ण कृष्ण हरे हरे – हरे राम हरे राम – राम राम हरे हरे

दिलबर की अदा निराली है
दिल छीन लिया उसने मेरा
प्यारे की सूरत प्यारी है
दिल छीन लिया उसने मेरा


दिन रात तड़पता रहता हु
घनश्याम तुम्हारी यादो में
हंस कर छीन लिया सबकुछ
जादू है तेरी बातो में
कंधे पे कँवर कलि है
दिल छीन लिया उसने मेरा

दिलबर की अदा निराली है
दिल छीन लिया उसने मेरा


मृग जैसे मोटे नैनो पे
बलिहारी जाऊ मै प्यारे
छैल चबिले रसिया के
है केश घने कारे कारे
अधरों पे मुरली प्यारी
दिल छीन लिया उसने मेरा

दिलबर की अदा निराली है
दिल छीन लिया उसने मेरा


हे सर्वेश्वर
हे कृष्णा प्रिय
मै तेरा हू, तू मेरा है
आकर के बाह पकड़ मेरी
माया ने मुझको घेरा है
तुमसे जन्मो की यारी है
दिल छीन लिया उसने मेरा


दिलबर की अदा निराली है
दिल छीन लिया उसने मेरा
प्यारे की सूरत प्यारी है
दिल छीन लिया उसने मेरा

दिलबर की अदा निराली है
दिल छीन लिया उसने मेरा

_

Dilbar ki Ada Nirali Hai

_

_

Krishna Bhajan List

_