Maa Durga Bhajans – List – Hindi

-

Maa Durga Aarti, Durga Bhajan and Chalisa

Maa Durga Bhajan

_

Mata ke Bhajans


मां दुर्गा मंत्र – या देवी सर्वभूतेषु मंत्र – अर्थसहित
या देवी सर्वभूतेषु शक्ति-रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः॥
जो देवी सब प्राणियों में शक्ति रूप में स्थित हैं, उनको नमस्कार, नमस्कार, बारंबार नमस्कार है।


दुर्गा आरती – जय अम्बे गौरी (Download)
जय अम्बे गौरी,
मैया जय श्यामा गौरी।
तुमको निशिदिन ध्यावत,
हरि ब्रह्मा शिव री॥


आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं (Download)
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं।
तुम बिन कौन सुने वरदाती।
किस को जाकर विनय सुनाऊं॥
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं


सन्तोषी माता आरती – जय सन्तोषी माता (Download)
जय सन्तोषी माता,
मैया, जय सन्तोषी माता।
अपने सेवक जन को,
सुख सम्पत्ति दाता॥


कालीमाता की आरती – मंगल की सेवा
मंगल की सेवा सुन मेरी देवा,
हाथ जोड तेरे द्वार खडे।
पान सुपारी ध्वजा नारियल
ले ज्वाला तेरी भेट धरे॥


जगजननी जय जय माँ (Download)
जगजननी जय जय माँ,
जगजननी जय जय।
भयहारिणी, भवतारिणी,
भवभामिनि जय जय॥


लक्ष्मी जी की आरती – ओम जय लक्ष्मी माता
ॐ जय लक्ष्मी माता,
(मैया) जय लक्ष्मी माता।
तुम को निश दिन सेवत,
हर-विष्णु-धाता॥
॥ ॐ जय लक्ष्मी माता ॥


अम्बे तू है जगदम्बे काली (Download)
अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली।
तेरे ही गुण गायें भारती,
हम सब उतारें तेरी आरती॥


माँ दुर्गा के 108 नाम – अर्थसहित
अभव्या : जिससे बढ़कर भव्य कुछ नहीं
अनन्ता: जिनके स्वरूप का कहीं अन्त नहीं
माहेश्वरी: प्रभु शिव की शक्ति
महिषासुर-मर्दिनि: महिषासुर का वध करने वाली


माँ दुर्गा चालीसा – नमो नमो दुर्गे सुख करनी
नमो नमो दुर्गे सुख करनी।
नमो नमो अम्बे दुःख हरनी॥
निरंकार है ज्योति तुम्हारी।
तिहूँ लोक फैली उजियारी॥


बिगड़ी मेरी बना दे, ऐ शेरोंवाली मैया
बिगड़ी मेरी बना दे, ऐ शेरोंवाली मैया
ऐ शेरोंवाली मैया, देवास वाली मैया
अपना मुझे बना ले, ऐ शेरोंवाली मैया


सच्ची है तू सच्चा तेरा दरबार
सच्ची है तू, सच्चा तेरा दरबार, माता रानिये
करदे दया की एक नज़र एक बार, माता रानिये


पार करो मेरा बेडा भवानी
पार करो मेरा बेडा भवानी,
पार करो मेरा बेडा
छाया घोर अँधेरा भवानी,
पार करो मेरा बेडा


ऐसा प्यार बहा दे मैया
ऐसा प्यार बहा दे मैया,
चरणों से लग जाऊं मैं।
सब अंधकार मिटा दे मैया,
दरस तेरा कर पाऊं मैं॥


मन तेरा मंदिर आखेँ दिया बाती
मन तेरा मंदिर आखेँ दिया बाती,
होठों की है थालीयाँ बोल फुल पाती
रोम रोम जिव्हा तेरा नाम पुकारती
आरती ओ मैया आरती


भोर भई दिन चढ़ गया – माँ वैष्णो देवी आरती
भोर भई दिन चढ़ गया, मेरी अम्बे
हो रही जय जय कार मंदिर विच आरती जय माँ
हे दरबारा वाली, आरती जय माँ


तुने मुझे बुलाया, शेरावालिये
तुने मुझे बुलाया, शेरावालिये
मैं आया, मैं आया, शेरावालिये
ओ, ज्योतावालिये, पहाड़ावालिये,
ओ मेहरावालिये


प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी
प्यारा सजा है तेरा द्वार, भवानी
तेरे भक्तों की लगी है कतार, भवानी
ऊँचे पर्बत, भवन निराला
आ के शीश नवावे संसार, भवानी


माँ सरस्वती आरती – जय सरस्वती माता
जय सरस्वती माता,
जय जय सरस्वती माता।
सद्दग़ुण वैभव शालिनि,
त्रिभुवन विख्याता॥
जय जय सरस्वती माता


चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है
चलो बुलावा आया है,
माता ने बुलाया है।
ऊँचे परबत पर रानी माँ ने
दरबार लगाया है॥


दुर्गा है मेरी माँ, अम्बे है मेरी माँ
दुर्गा है मेरी माँ,
अम्बे है मेरी माँ
पूरे करे अरमान जो सारे
देती है वरदान जो सारे


_
_

आज अष्टमी की पूजा करवाउंगी
आज अष्टमी की पूजा करवाउंगी
ज्योत मैया जी की पावन जलाऊंगी
हे मैया, हे मैया, सदा हो तेरी जय मैया
मन की मुरादे मैं पाऊँगी


जय जय संतोषी माता, जय जय माँ
मैं तो आरती उतारूँ रे,
संतोषी माता की।
जय जय संतोषी माता,
जय जय माँ॥


चरणों में रखना, मैया जी मुझे चरणों में रखना
चरणों में रखना,
मैया जी मुझे चरणों में रखना
अब तो सहारा बस तुम्हारा है माँ
एक तुझे ही हर घडी ही पुकारा है माँ


दे माँ, निज चरणों का प्यार
दे माँ, निज चरणों का प्यार
पूर्ण प्रेम दे, अमर स्नेह दे,
पूजा करूँ सदा मैं तेरी,
दे सुमिरन का आधार॥


मेरी मैया की चुनरी कमाल है
मेरी मैया की चुनरी कमाल है
रंग सोना सोना लाल लाल है
माँ के चुनरी के देख नज़ारे
चम चम चमके, जिसमे चाँद और सितारे


मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे
मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता
मान मिला सम्मान मिला,
धन धान मिला, नित ध्यान मिला


शेर पे सवार होके आजा शेरावालिये
शेर पे सवार होके आजा शेरा वालिये
सोये हुए भाग्य जगा जा शेरावालिये
शेरा वालिये, माँ ज्योता वालिये


ले के पूजा की थाली, ज्योत मन की जगाली
ले के पूजा की थाली,
ज्योत मन की जगाली,
तेरी आरती उतारूँ, भोली माँ।


आ माँ आ, तुझे दिल ने पुकारा
जयकारा शेरावाली दा।
बोल साचे दरबार की जय।
आ माँ आ, तुझे दिल ने पुकारा
दिल ने पुकारा, तू है मेरा सहारा माँ


आज तेरा जगराता माता, आज तेरा जगराता
आज तेरा जगराता माता,
आज तेरा जगराता
जगमग करती पावन ज्योति,
हर कोई शीश झुकाता


गंगा जी की आरती – ओम जय गंगे माता
ओम जय गंगे माता,
मैया जय गंगे माता।
जो नर तुमको ध्याता,
मनवांछित फल पाता॥
ओम जय गंगे माता॥


तुम बसी हो कण कण अन्दर माँ
तुम बसी हो कण कण अन्दर माँ
हम ढूंढते रह गये मंदिर में
हम मूढमति हम अनजाने
माँ सार तुम्हारा क्या जाने


तेरे शरण आए, देखो हे अम्बे माता
तेरे शरण आए, देखो हे अम्बे माता,
चारो दिशा से, भक्ति आशा से,
भक्तो की भीड़ आयी, हो माता
भक्तो की पीड़ा, हरनेवाली माँ,
कोटि कोटि है प्रणाम, हो माता


शक्ति दे माँ, शक्ति दे माँ
शक्ति दे माँ, शक्ति दे माँ,
पग पग ठोकर खाऊं,
चल ना पाऊं,
कैसे आऊं मैं घर तेरे॥


हे शारदे माँ, हे शारदे माँ
हे शारदे माँ, हे शारदे माँ
अज्ञानता से हमें तारदे माँ
तू स्वर की देवी, ये संगीत तुझसे
हर शब्द तेरा है, हर गीत तुझसे


जय अम्बे जगदम्बे माता, जय अम्बे
सबकी विपदा हरने वाली,
सब पर किरपा करने वाली
सबकी झोली भरने वाली,
मुझको भी रस्ता दिखा, मेरी माँ.


बोलो माँ के जयकारे, मिट जाये संकट सारे
बोलो माँ के जयकारे,
मिट जाये संकट सारे।
मिट जाये संकट सारे,
भर देगी माँ भंडारे


माँ दुर्गा भजन – आरती – List
दुर्गा आरती – जय अम्बे गौरी
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
बिगड़ी मेरी बना दे, ओ शेरोंवाली मैया
सच्ची है तू सच्चा तेरा दरबार


माँ मुरादे पूरी करदे हलवा बाटूंगी
माँ मुरादे पूरी करदे हलवा बाटूंगी
ज्योत जगा के, सर को झुका के
मैं मनाऊंगी, दर पे आउंगी


माता रानी का ध्यान धरिये
माता रानी का ध्यान धरिये
काम जब भी कोई करिए
कोई मुश्किल हो पल में टलेगी,
हर जगह पे सफलता मिलेगी


महिषासुर मर्दिनी स्तोत्र – अयि गिरिनंदिनि
अयि गिरिनंदिनि नंदितमेदिनि
विश्वविनोदिनि नंदनुते
गिरिवर विंध्य शिरोधिनिवासिनि
विष्णुविलासिनि जिष्णुनुते।


हे माँ मुझको ऐसा घर दे
हे माँ मुझको ऐसा घर दे,
जिसमे तुम्हारा मंदिर हो।
ज्योत जगे दिन रैन तुम्हारी,
तुम मंदिर के अन्दर हो॥


देवी सूक्तम् – या देवी सर्वभूतेषु
या देवी सर्वभूतेषु
दया-रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै
नमस्तस्यै नमो नमः॥


खुशहाल करती, माला माल करती
खुशहाल करती, माला माल करती
ओ शेरावाली, अपने भक्तो को निहाल करती
अम्बे रानी वरदानी देती, खोल के भंडारे
झोली ले गया भराके, आया चल के जो द्वारे

_

माँ दुर्गा भजन – Maa Durga Bhajan